हिन्दी | বাংলা | অসমীয়া |
प्रतिवर्ष 7,50,000 बच्चों की चोट के कारण मृत्यु हो जाती है। अन्य 40 करोड ग़ंभीर रूप से घायल हो जाते है। इनमें से कई चोटें मस्तिष्क को क्षति पहुंचाने वाली अथवा स्थाई क्षति पहुंचाने वाली होती है। बच्चों में मृत्यु व विकलांगता का प्रमुख कारण चोट या क्षति पहुंचना है।

चोट से बचाव की सूचना का प्रसार व उसके अनुसार कार्य करना क्यों आवश्यक है?

प्रतिवर्ष 7,50,000 बच्चों की चोट के कारण मृत्यु हो जाती है। अन्य 40 करोड ग़ंभीर रूप से घायल हो जाते है। इनमें से कई चोटें मस्तिष्क को क्षति पहुंचाने वाली अथवा स्थाई क्षति पहुंचाने वाली होती है। बच्चों में मृत्यु व विकलांगता का प्रमुख कारण चोट या क्षति पहुंचना है।

सबसे सामान्य क्षति गिरने, जलने या सडक़ दुर्घटना से होती है। इनमें से अधिकांश क्षतियां घर के आस-पास ही घटित होती है। इनमें से सभी का बचाव किया जा सकता है। यदि अभिभावकों को ये पता हो कि चोट पहुंचने के बाद क्या किया जाना चाहिये तो इनमें से कई की गंभीरता कम की जा सकती है।